Voter's Registration and Services

Voter's Registration
Voter's Services

Latest Updates

From The Principlal's Desk

शासकीय संत गहिरा गुरु रामेश्वर महाविद्यालय की स्थापना 03 सितम्बर 2005 को हुई, 22 जून 2008 को महाविद्यालय का स्वयं का भवन बनकर तैयार हुआ, जिसका लोकार्पण तात्कालीन मुख्यमंत्री माननीय डाॅ. रमन सिंह जी के करकमलों से हुआ।

यह महाविद्यालय जिला मुख्यालय रायगढ़ से लगभग 85 कि.मी. की दूरी पर जशपुर रोड़ में स्थित है, महाविद्यालय का नाम यहां के प्रसिद्ध संत, गहिरा गुरु रामेश्वर जी, के नाम पर रखा गया। यह महाविद्यालय आदिवासी बहुल क्षेत्र में स्थित है। प्रारंभ में महाविद्यालय की शुरूआत, 90 छात्र-छात्राओं से हुई। सत्र 2020-21 में महाविद्यालय में 883 छात्र-छात्राएं अध्ययनरत हैं।

वर्तमान में महाविद्यालय में कला, वाणिज्य एवं विज्ञान संकाय के साथ-साथ दो विषय- समाजशास्त्र एवं प्राणीशास्त्र में स्नातकोत्तर की कक्षाएं संचालित है। महाविद्यालय में 100 बिस्तर कन्या छात्रावास की सुविधा भी है। विगत वर्षों से महाविद्यालय के सभी छात्र-छात्राओं एवं स्टाॅफ अपने पहचान पत्र के साथ निर्धारित यूनीफार्म में महाविद्यालय आते हैं।

महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा बहुत ही कम समय में सीमित संसाधनों के बाद भी अध्ययन-अध्यापन में विशेष रूचि रखी गई एवं परीक्षा परिणाम प्रतिवर्ष उल्लेखनीय दर्ज की गई।

संत गहिरा गुरूजी के पवित्र धरती पर स्थित महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं में अध्ययन के प्रति ललक है, इस महाविद्यालय के संस्कारवान छात्र-छात्राओं के उज्जवल भविष्य की कामना करता हूँ। साथ ही साथ महाविद्यालय के प्रति समर्पित स्टाॅफ के प्रति धन्यवाद व्यक्त करता हूँ, जिन्होंने अपनी मेहनत एवं लगन से महाविद्यालय को प्रगति पथ पर आगे बढ़ाने में निरन्तर अपना योगदान दे रहे हैं।

प्राचार्य
शासकीय संत गहिरा गरूु रामेवर
महाविद्यालय, लैलूंगा, जिला-रायगढ़ (छ.ग.)

Gallery